Success Story civil services UPSC

UPSC Civil Services Struggle and Success story

जब चले #सिविल_सर्विस करने तो क्या कहते हैं जमाने के लोग
जब आप के कदम बढ़ते आईएएस आईपीएस बनने के लिये तो क्या होता है हर सख्श की कहानी एक सी होती है चाहे वो सफल होता है या असफल तो ये सोचना बंद करे की लोग क्या कहेगे क्या होगा अगर नहीं हुआ तो और भी बहुत कुछ
क्या आप #सिविल सर्विस की तैयारी के लिए निकल रहे है तो ये बातें बहुत आम होती है आप के साथ क्षमा करे आप के नहीं सिविल सर्विस के हर सख्श की …

UPSC Civil Services Success Story

देखिए #सिविल सर्विस की तैयारी और मारामारी
ये है आप: मै आईएएस बनुँगा चाहे कुछ भी हो जाये

पड़ोसी: कलेक्टर बनना मुश्किल ही नही, नामुमकिन है, बहुत ही कम्पटीशन होता है। फलाने का लडका कोचिंग पोचिंग सब किया था प्रयागराज दिल्ली घर से दूर रह कर पढाई की कुछ नही हुआ खाली हाथ आ गया। अब छोटा मोटा काम कर कमा खा रहा है।

गांव वाले: अपने घाव का छोड़ो आस पास के गांव में कभी सुना नहीं है की कोई कलेक्टर बना है। (बस आप को यही तो बदलाव लाना है। )

छोटी नौकरी की तलाश वाले: बहुत लोग देखे सिविल सर्विस के लिये पढ़ते है होता कुछ नहीं और कम्पटीशन देख रहे हो पहले कोई नौकरी पा लो फिर सोचना आईएएस आईपीएस और हिन्दी मीडियम से तैयारी करोगे तब तो बस भूल ही जाओ कभी अफसर बन पाओगे

रिश्तेदार: अब तो हर जगह घूस शिफारिश चलती है एग्जाम क्लियर कर भी लिया तो इंटरव्यू वहाँ तो बहुत लोग पहुंचते है सबका थोड़ी होता है। घर की स्थति भी नहीं कब तो नौकरी के लिये भागोगे कुछ कर लो पहले छोटा मोटा।

साथी – दोस्त: कोचिंग वाले सब बेवकूफ बनाते हैं। कोचिंग एक अच्छा बिजनेस है। हमको लूट कर लावारिस छोड़ देते हैं।सेलेक्शन तो छोड़ो एग्जाम तक क्लियर नहीं होते। फिर भी मन है तो करो। अच्छा तो यह होगा की SSC, Railway, Bank की तैयारी करो इसमें पद भी बहुत निकलते है। अगर तुम्हे सरकारी नौकरी ही चाहिये तो मिल जाएगी।

सीनियर्स: हम तो 4 साल से IAS /PCS दे रहे हैं हुआ कुछ नहीं। टाइम और ख़राब हो गया। लास्ट के अटेम्प और बचे उनमे और जोर लगाएंगे नहीं हुआ तो कुछ और करेंगे।

रूम पार्टनर: भाई पढ़ाई तो खूब कर रहा है, देखते हैं प्री पास हो जाएगा कि नही और उसके बाद मेंस पास नहीं हुआ तो सब बेकार हो जायेगा और अगर प्री परीक्षा पास हो गए तो अरे तुक्के से पास हो गया होगा मेंस पास करके दिखाये (लेकिन आप देखने दिखाने के लिये नहीं है आप को करना है )

एक दो बार प्री दे चुके कैंडिडेट: अब बहुत भीड़ हो गई है भाई इस फील्ड में इंजीनियर डॉक्टर सब हांथ पांव मार रहे हैं। हम तो घूस गई है तुम्हारे पास अभी भी समय है पहले छोटी मोटी सरकारी नौकरी हांथ में ले लो, तब सिविल सर्विस के बारे में सोंचना।

टापर्स: 15-16 घंटे रोज किताब पढना पडता है। बाकि चीजों से भी अपडेट रहना। किसी भी हाल में पॉजिटिव सोच रखना। सिविल सर्विस परीक्षा में सफल होने के लिए 2-4 घंटे में कुछ नही होगा।

कोचिंग वाले: हम आप को बता देते है कैसे सिविल सर्विस का एग्जाम पास होगा कोनसा सब्जेक्ट अच्छा रहेगा जिसमे बहुत अच्छे नंबर मिलते है। तुम जल्दी कलेक्टर बन जाओगे। हमारे कम फेस में बेहतर पढ़ाई होती है।

घर जाने पर पड़ोसी: कैसी चल रही रहा पढाई? कुछ होगा भी या नहीं?

मोहल्ले के यार दोस्त: इस बार पेपर बहुत कठिन था। तुम्हारा कैसा गया?

गुस्सैल बाप: तुम्हारे पीछे लाखों फूंक दिये। मस्तीबाजी कर रहे हो या पढाई। तुम्हारा कुछ ho क्यों नहीं रहा है । हमे तुम्हारी शादी व्याह का भी देखना है।

सामान्य माता पिता और भाई बहन: हमे पता है लक्ष्य बहुत बढ़ा है तो तुम्हे घबराना नहीं है बस अपने आप बस भरोसा रखो, तैयारी करो बेटा… देखा जाएगा, किसी चीज की ज़रूरत हो तो बताना, तबियत का भी ख्याल रखना, हमेशा पढते ही मत रहना।

जब आप सिविल सर्विस की तैयारी करेंगे तो ऐसे कथनो से आपका सामना होगा। लेकिन आप को घबराना नहीं है।

यूँ ही नहीं मिलती राही को मंजिल,
एक जूनून सा दिल में जगाना होता है,
पूँछा चिड़िया से कैसे बनाया आशियाना बोली –
भरनी पड़ती है उड़ान बार बार,
तिनका तिनका उठाना होता है
#मंजिल दूर नहीं हें

Read also: Book Typing Online Jobs.

Spread the love