त्रिवेदी को जाती बाहर करो हैस टैग ट्विटर कर रहा है ट्रेंड्स

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में घटित रेप पीड़िता को पेट्रोल और किरोसिन तेल से जला के मार देने की घटना के विरोध में जहां कल सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने विधानसभा के बहार धरना दिया वही आज ट्विटर पर #त्रिवेदीकोजातीबाहरकरो हैस टैग ट्विटर पर ट्रेंड्स हो रहा है। ये इस लिए हो रहा है क्यों की इस घटना आरोपी त्रिवेदी जाती के है। इस घटना से पूरी उत्तर प्रदेश  की जनता में आक्रोश है और वो चंद लोगो की वजह से ट्विटर पर पूरी जाती को ही बहार करने मांग कर #त्रिवेदीकोजातीबाहरकरो को ट्रेंड् करा रहे है और हैदराबाद की तरह आरोपियों को गोली मरने की इच्छा जाता रहे है।

अस्पताल में बेटी की मौत के बाद उन्नाव रेप विक्टिव के पिता ने कहा, ‘आरोपी लगातार हमारे परिवार को धमका रहे थे। वे गालियां दे रहे थे, कहते थे मार डालेंगे, जला डालेंगे, पूरे परिवार को बर्बाद कर देंगे।’ बता दें कि करीब 40 घंटे तक इलाज के बाद रेप पीड़िता ने दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में अंतिम सांसें लीं।

बता दें कि उन्नाव के बिहार थाना इलाके में रेप पीड़िता (20) को गुरुवार तड़के पांच लोगों ने जिंदा जला दिया था। घटना में शामिल सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पीड़िता ने थाने में शिकायत कर बताया था कि शिवम त्रिवेदी नाम के शख्स ने उसे प्रेमजाल में फंसाया और फिर रायबरेली ले जाकर रेप किया।

Advertisement

इस बीच रेप पीड़िता की बहन ने कहा है कि उनके साथ इंसाफ नहीं हुआ। मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘इस मामले में मुजरिमों को सख्त से सख्त सजा दी जाए। हमारे साथ न्याय नहीं हुआ। पुलिस ने समय पर रिपोर्ट भी नहीं लिखी। हमसे यहां पर कोई मिलने नहीं आया है।’

रेप पीड़िता के भाई ने मांग की है कि आरोपियों को मौत से कम की सजा नहीं मिलनी चाहिए। पीड़िता के भाई ने कहा, ‘मेरे पास कहने को कुछ नहीं बचा है। मेरी बहन अब हमारे बीच नहीं है। मेरी इकलौती मांग यह है कि सभी पांच आरोपियों को कम से कम फांसी की सजा हो।’

पीड़िता ने आरोप लगाया था कि त्रिवेदी ने मोबाइल में उसका विडियो बना लिया था। विडियो वायरल करने की धमकी देकर वह लगातार रेप करता रहा। युवती ने कहा कि शिवम ने कई शहरों में ले जाकर उसके साथ रेप किया। पीड़िता ने शादी के लिए दबाव बनाया लेकिन शिवम नहीं माना। युवती को जलाने वाले एक अन्‍य आरोपी ने भी उससे रेप किया था जो कुछ दिन पहले ही जमानत पर बाहर आया था।

Advertisement
Spread the love