Hindu Dharm

Hindu Dharm

Advertisement

हिन्दू धर्म को ‘वैदिक सनातन धर्म’ भी कहते हैं जिसका मतलब होता है कि इसकी उत्पत्ति मानव की उत्पत्ति से पहले का है। हिन्दू धर्म अपने अन्दर कई अलग-अलग देवी देवता उनकी पूजा उपासना पद्धतियाँ, ज्योतिषी विद्या, त्यौहार और परम्पराये समेटे हुए है। यहा पर हम हिन्दू धर्म से जुड़ी इन्ही सब चीजों की चर्चा करे।

हिन्दू धर्म के सभी व्रत उपवासों की लिस्ट

पूर्णिमा व्रत
अमावस्या व्रत
प्रदोष व्रत
एकादशी व्रत
प्रदोष व्रत
संकष्ट चौथ या संकष्टी चतुर्थी
विनायका चतुर्थी
मासिक शिवरात्रि
मासिक दुर्गा अष्टमी
चंद्र दर्शन
संक्रांति व्रत
सत्यनारायण पूजा तिथि
मासिक कालाष्टमी

Advertisement

मुहूर्त जाने

चौघड़िया मुहूर्त
राहु काल का समय
अभिजीत मुहूर्त
शुभ होरा

जाने साल भर के विभन्न मुहूर्त और शुभ अवसरों के बारे में

शादी का मुहूर्त
गृह प्रवेश का मुहूर्त
घर और प्रॉपर्टी खरीदने का मुहूर्त
गाड़ी खरदीने का मुहूर्त
नाम करण मुहूर्त
मुंडन मुहूर्त
जनेऊ धारण करने का मुहूर्त

शुभ मुहूर्त के साथ जाने पंचांग में आने वाले सभी योग के बारे में जो लाएंगे आप के कार्यो की सिद्धि और सफलता

रवि योग
सर्वार्थ सिद्धि योग
अमृत सिद्धि योग
द्विपुष्कर योग
त्रिपुष्कर योग
रवि पुष्य योग
गुरु पुष्य योग

हिन्दुओ के प्रमुख त्योहारों के बारे में – हिन्दू धर्म की पहचान और उसकी परम्पराओ का इतिहास दोहराता है। साल भर आने वाले सभी हिन्दू त्यौहार अपने साथ एक नई ऊर्जा लाते है। हिन्दू धर्म के त्योहारों की लिस्ट।
हिन्दू धर्म के साल के प्रमुख त्यौहार कुछ इस प्रकार है।
होली
दिवाली
रक्षाबंधन
गणेश चतुर्थी
महाशिवरात्रि
नवरात्री

हिन्दू धर्म के देवी देवता
हिन्दू धर्म में अलग अलग मान्यताओं के हिसाब से हिन्दू धर्म में 33 करोड़ देवी-देवता हैं। जिनकी हिन्दू धर्म को मानने वाले अपने-अपने मतानुसार पूजा करते हैं।
प्रमुख हिन्दू देवता
प्रमुख हिन्दू देवी
नव ग्रह देवता
नव दुर्गा रूप
दशा अवतार
अष्ट लक्ष्मी
सप्त मातृका
भगवान विष्णु
भगवान शिव
गणेशा जी
हनुमान जी
सूर्य भगवान
ब्रह्म देव
श्री राम भगवान
श्री कृष्णा भगवान
लक्ष्मी माता
सरस्वती माता
वैष्णव माता
पार्वती माता
दुर्गा माता

हिन्दू धर्म में गुरु और संत
हिन्दू धर्म में जन्म लेने वाले संत गुरुओ ने हिन्दू धर्म का सही मतलब लोगो को इस बदलते प्रवेश में बताया और हिन्दू धर्म की परम्पराये आज इनकी वजह से ही हम तक पहुंच रही है।
अदि शंकराचार्य
रामानुजा आचार्य
गौतम बुद्धा
महावीर
गोस्वामी तुलसीदास
कवी सूरदास
मीराबाई

पूजा विधि – हिन्दू धर्म में पूजा विधि का बहुत महत्व है किसी भी प्रकार की ख़ुशी और व्रत एवं देवताओ को प्रसन्न करने के लिए पूजा विधि एक अहम भूमिका है।
दिवाली पूजा विधि
होली पूजा विधि
सरस्वती पूजा विधि
गोवर्धन पूजा विधि
सत्यनारायण पूजा विधि
मंगलवार को हनुमान जी की पूजा विधि
रक्षाबंधन पूजा विधि
शिवरात्रि पूजा विधि
नरकचतुर्दशी पूजा विधि
वट सावित्री पूजा विधि
हरतालिका पूजा विधि
घटस्थापना पूजा विधि
करवा चौथ पूजा विधि
कृष्णा जन्माष्टमी पूजा विधि
राम नवमी पूजा विधि
कुबेर पूजा विधि
काली पूजा विधि
दुर्गा पूजा विधि

हिन्दू धर्म में देवी देवताओ को प्रसन्न करने और उनकी स्तुति करने के लिए आरती चालीसा और मंत्रो के साथ स्त्रोतम का वाचन किया जाता है। जिसकी लिस्ट आप यह दी जा रही है।
आरती संग्रह
चालीसा संग्रह
मंत्र संग्रह
स्त्रोतम संग्राम
मंगल भवन अमंगल हरी
श्री राम चंद्र कृपालु भजमन
महिसासुर मर्दिनी

 

Advertisement
Spread the love