Purushottam Dev ki Aarti Lyrics

Purushottam Dev ki Aarti Lyrics

जय पुरुषोत्तम देवा, स्वामी जय पुरुषोत्तम देवा आरती के बोल  Lord Purushottam aarti  Jai Purushottam Deva, Swami Jai Purushottam Deva lyrics in Hindi and English. भगवान पुरुषोत्तम की पूजा और उनकी आराधना के लिये हम आरती  जय पुरुषोत्तम देवा की आरती गाते है।

देखे आज का चौघड़िया

भगवान  पुरुषोत्तम की आरती  जय पुरुषोत्तम देवा, स्वामी जय पुरुषोत्तम देवा सुबह और संध्या पूजा के साथ साथ किसी विशेष त्यौहार या उत्सव पर भगवान पुरुषोत्तम को प्रसन्न करने के लिये  गा सकते है।

Advertisement

जन्म कुंडली से जाने अपने जीवन के बारे में

You can download  Jai Purushottam Deva, Swami Jai Purushottam Deva lord Purushottam aarti in MP3, Audio, Video, PDF free Download.

आने वाले प्रमुख त्यौहार देखे Festival Calendar.

Advertisement

श्री पुरुषोत्तम देव की आरती

जय पुरुषोत्तम देवा, स्वामी जय पुरुषोत्तम देवा।
महिमा अमित तुम्हारी, सुर-मुनि करें सेवा॥
जय पुरुषोत्तम देवा॥

सब मासों में उत्तम, तुमको बतलाया।
कृपा हुई जब हरि की, कृष्ण रूप पाया॥
जय पुरुषोत्तम देवा॥

पूजा तुमको जिसने सर्व सुक्ख दीना।
निर्मल करके काया, पाप छार कीना॥
जय पुरुषोत्तम देवा॥

Advertisement

मेधावी मुनि कन्या, महिमा जब जानी।
द्रोपदि नाम सती से, जग ने सन्मानी॥
जय पुरुषोत्तम देवा॥

विप्र सुदेव सेवा कर, मृत सुत पुनि पाया।
धाम हरि का पाया, यश जग में छाया॥
जय पुरुषोत्तम देवा॥

नृप दृढ़धन्वा पर जब, तुमने कृपा करी।
व्रतविधि नियम और पूजा, कीनी भक्ति भरी॥
जय पुरुषोत्तम देवा॥

Advertisement

शूद्र मणीग्रिव पापी, दीपदान किया।
निर्मल बुद्धि तुम करके, हरि धाम दिया॥
जय पुरुषोत्तम देवा॥

पुरुषोत्तम व्रत-पूजा हित चित से करते।
प्रभुदास भव नद से सहजही वे तरते॥
जय पुरुषोत्तम देवा॥

पूजा और किसी भी त्यौहार पर हिन्दू देवी देवताओ की आरती लिरिक्स का एक मात्र स्थान – आरती संग्रह

Advertisement

 

Advertisement
Spread the love