2018 में बैंकों को लगा 41 हजार करोड़ का चूना

2018 में बैंकों को लगा 41 हजार करोड़ का चूना

नई दिल्लीः वैसे तो 2018 में पंजाब नेशनल बैंक में करीब 13 हजार करोड़ रुपये के फ्रॉड की सबसे ज्‍यादा चर्चा हुई थी लेकिन रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के ताजा आंकड़ों के मुताबिक इस 4 साल में बैंकों को 40 हजार करोड़ रुपये से भी ज्‍यादा का चूना लगा है। आरबीआई ने अपने आंकड़ों में बताया कि 2017-18 में बैंकों को करीब 41,167.7 करोड़ रुपये का चूना लगा है। वंही पिछले साल यह आंकड़ा करीब 23,933 करोड़ रुपये तक था।

आरबीआई की ओर से बताया गया कि बीते चार चालों में बैंकों के साथ धोखाधड़ी करने के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हुई है। 2013-14 में 10,170 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का मामला सामने आया था। जो 2018 में 41,167.7 करोड़ रुपये हो गया है। जो पहलर से 4 गुना ज्‍यादा है।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक रिपोर्ट में बताया कि बैंकों ने वित्त वर्ष 2018 में कर्ज की रिकवरी करने में महत्वपूर्ण सफलता हासिल की है। मार्च 2018 में खत्म हुए वित्त वर्ष में बैंकों ने 40,400 करोड़ रुपये का लोन रिकवर किया है, जबकि पिछले वर्ष 20 17 में 38,500 करोड़ रुपये की रिकवरी हुई थी।

Spread the love