Bhim Army chief Chandrashekhar Azad in police custody, 40 people detained

भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद पुलिस कस्टडी में, 40 लोगों को हिरासत में

नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) के विरोध में दिल्ली एक बार फिर जल उठी. राजधानी के दरियागंज (Daryaganj CAA Protest) इलाके में प्रदर्शनकारियों ने पुलिस स्टेशन के बाहर खड़ी कार को आग के हवाले कर दिया. शुक्रवार देर शाम लोग यहां जमा हुए थे. जिसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज और वॉटर कैनन का इ्स्तेमाल किया. पुलिस ने 40 लोगों को हिरासत में लिया है, जिसमें 8 नाबालिग शामिल हैं. दूसरी ओर शनिवार सुबह भीम आर्मी (Bhim Army) के मुखिया चंद्रशेखर आजाद (Chandrashekhar Azad) को पुलिस ने एक बार फिर हिरासत में ले लिया है.

चंद्रशेखर आजाद अपनी भीम आर्मी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ शुक्रवार को जामा मस्जिद इलाके में पहुंचे थे. वहां धारा 144 लगाई गई थी. कई मुस्लिम संगठनों से जुड़े लोग भी वहां पहुंचे. वह लोग जामा मस्जिद से जंतर-मंतर तक मार्च निकालने की तैयारी कर रहे थे. दिल्ली पुलिस ने मार्च की इजाजत नहीं दी. तनाव की आशंका के मद्देनजर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई थी. लोगों का हुजूम बढ़ता देख पुलिस ने आजाद को हिरासत में ले लिया था. कुछ देर बाद खबर आई कि आजाद पुलिस हिरासत से गायब हो गए और शनिवार सुबह एक बार फिर उन्हें हिरासत में लिए जाने की जानकारी मिल रही है.

Spread the love