यूपी में कानून-व्यवस्था नहीं जंगलराज है-नेताओं के बोल

यूपी में कानून-व्यवस्था नहीं जंगलराज है-नेताओं के बोल

उत्तर प्रदेश: बुलंदशहर में हुई घटना जंहा सरकार के लिए श्राप मै तो वंही योगी सरकार पर सवाल भी खड़े हो रहे है तो विपक्ष भी इस मुद्दे पर सरकार को घेर रही है।

कपिल सिब्बल-यूपी में भय का माहौल
कांग्रेसी नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि योगी आदित्यनाथ तेलंगाना और राजस्थान में जा कर विष भरा भाषण देते हैं। यूपी में कानून-व्यवस्था नाम की चीज नहीं है। भय का माहौल है। ये लोग सरकार चलाने नहीं लोकतंत्र को काबू में करने के लिए सत्ता में आए हैं।

ओवैसी-यूपी में इंसानों की जिंदगी सस्ती
AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि यूपी में गोरक्षा के नाम पर आतंक मचाने वालों की बीजेपी और आरएसएस रक्षा करती है। यूपी में जानवरों की जिंदगी की कीमत इंसानों से ज्यादा है, इसलिए वहां पर ऐसी दुर्घटना हुई। अगर इंसान जिंदा रहे तो ही जानवरों को बचा पाएंगे।

Advertisement

हिंदू महासभा-जब रोम जल रहा था, तो नीरो बांसुरी बजा रहा था
हिंदू महासभा के अध्यक्ष ने कहा, ‘इस तरह इतनी अराजकता बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था नहीं जंगलराज है। प्रदेश में आग लगी है और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी जी लेजर शो देख रहे हैं।

वामपंथियों-हिंसा में संघ का हाथ
वामपंथी पार्टी नेता वृंदा करात ने कहा कि बुलंदशहर में हिंसा अचानक नहीं हुई, बल्कि सुनियोजित तरीके से लाई गई थी। जिसकानेतृत्व संघ परिवार से जुड़े हुए लोग कर रहे थे। ऐसे तत्वों को इसलिए हिम्मत सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी जहर भरी भाषा मिलती है।

सीपीआईएम

Advertisement

जिस तरह 2014 के चुनाव के पहले मुजफ्फरनगर में सांप्रदायिक दंगे करवाकर पश्चिम उत्तर प्रदेश के राजनीतिक समीकरण को बदलने की कोशिश की गई थी। उसी तरह संघ परिवार योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में 2019 के चुनाव के पहले ध्रुवीकरण करवाने की बड़ी साजिश कर रहा है।

Advertisement
Spread the love