यूपी सरकार ने 25 हजार होमगार्ड को ड्यूटी से हटाया, 172 रु वेतन बढ़ाने को नहीं था बजट

यूपी सरकार ने 25 हजार होमगार्ड को ड्यूटी से हटाया, 172 रु वेतन बढ़ाने को नहीं था बजट

जहाँ भारत में बेरोजगारी चरम सीमा पर है वही यूपी पुलिस के इस फैसले से बेरोजगारी को एक नयी मजबूती मिल गयी है। खबर ये है की यूपी पुलिसने विभिन्न ज़िलों में तैनात होमगार्ड के 25 हज़ार जवानों को तत्काल प्रभाव से ड्यूटी से हटाने का फ़ैसला लिया है।  हमें मिले जानकारी के मुताबिक सोमवार को प्रयागराज में उत्तर प्रदेशपुलिस मुख्यालय की ओर से जारी आदेश में कहा गया की  ’25 हज़ार होमगार्ड को ड्यूटी से हटाने का फ़ैसला अगस्त 2019 में चीफ़ सेक्रेटरी की अध्यक्षता में हुई बैठक में लिया गया।’

इतना ही नहीं यूपी पुलिस के सूत्रों का कहना है कि बजट की कमी के चलते होमगार्ड जवानों को हटाने का फ़ैसला लिया गया है।  उत्तर प्रदेश सरकार के इस फैसले के बाद पुलिस विभाग को सेवाएं दे रहे 25 हजार होमगार्ड बेरोजगार हो गए।

हम आप को बता दे की पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में कहा था कि होमगार्ड स्वंयसेवकों को मिलने वाला दैनिक भत्ता पुलिस के बराबर होना चाहिए, जिसके बाद यूपी में होमगार्डों का दैनिक भत्ता 500 रुपये से बढ़ाकर 672 रुपये किया गया था।  लेकिन अब बजट का हवाला देकर बड़ी संख्या में होमगार्डों की छुट्टी की जा रही है। जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश में करीब 1 लाख होमगार्ड अपने सेवाएं दे रहे हैं।

Advertisement

हमें मिली जानकारी के मुताबिक अधिकारियों का कहना है कि होमगार्डों का दैनिक भत्ता को बढ़ा दिया गया लेकिन बजट में बढ़ोतरी नहीं की गई है।  हम उम्मीद करते हैं कि जल्द इन होमगार्ड्स की वापसी होगी, बजट का इंतजाम करते ही इन्हें वापस बुलाया जा सकता है।

Advertisement
Spread the love