शिवसेना की सरकार को चेतावनी, संसद नहीं चलने देंगे

शिवसेना का सरकार को चेतावनी, संसद नहीं चलने देंगे

नई दिल्ली: भाजपा के सहयोगी दल शिवसेना ने कहा कि अगर सरकार राम मंदिर के निर्माण के लिए विधेयक लेकर नहीं आती है तो संसद का शीतकालीन सत्र के नहीं चलने देगी।

शिवसेना के सांसद चंद्रकांत खैरे ने कहा कि उन्होंने शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले सरकार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में ये बात कही है। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी शामिल थे। शिवसेना की मांग है कि सरकार राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में विधेयक लाए। अगर सरकार शुरू हो रहे शीतकालीन सत्र में ऐसा नहीं करती है तो हमारी पार्टी संसद नहीं चलने देगी।

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पिछले महीने अयोध्या के दौरे में कहा था कि अगर अयोध्या में मंदिर नहीं बनता है तो केन्द्र की भाजपा सरकार नहीं चल सकती।

उन्होंने मांग की थी कि इस संबंध में अध्यादेश आना चाहिए। ठाकरे ने कहा था कि 2014 के आम चुनावों के घोषणापत्र में सरकार ने कहा था कि संविधान के दायरे में रहते हुए राम मंदिर मुद्दे का हल खोजा जाएगा।

Spread the love