बजरंगबली का नाम, अखिलेश ने मुख्यमंत्री योगी को लिया निशाने पर

कानपुर: सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भाजपा के चुनावी मुद्दों के सवाल पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर तंज कसते हुए कहा कि वह बंदर भगाने के लिए हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए कह रहे हैं। तो चुनावी सभावो में घूमकर हनुमानजी की जाति भी बता रहे है। उन्होंने कहा कि चुनाव का समय है। विकास और असली मुद्दों से जनता का ध्यान हटाने के लिए ऐसे बयान दिए जा रहे हैं। सपा प्रमुख ने कांग्रेस और भाजपा को एक जैसा बताते हुए कहा कि कांग्रेस ने शौचालय का एक गड्ढा खुदवाया था और भाजपा दो खुदवा रही है।

अखिलेश यादव रविवार को एक वैवाहिक समारोह में कैंट स्थित मंटोरा हाउस आए थे। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि कानपुरियों को दुख तो होता होगा कि मेट्रो नहीं चल पाई। वह भी यही सोच कर आए थे कि मेट्रो से चलेंगे। अखिलेश ने कहा कि भाजपा चाहती है कि गरीबी, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार पर बहस न हो। जानबूझकर ऐसे मुद्दे लाते हैं। असली भगवान तो विकास है। रसूलाबाद में नोटबंदी के दौरान पैदा हुए खजांची का जैसा घर बना वैसा पांच लाख गरीबों का बनना चाहिए। उद्यमी, व्यापारी डर रहे हैं। मॉब लिचिंग हो रही है।
अखिलेश यादव ने कहा कि बदमाशों को फर्जी तरीके से गोली मारी जा रही है। पहली बार इतनी संख्या में पुलिसवालों को भी गोली लगी। मुख्यमंत्री जब ठोंकने वाली बात करेंगे तो ऐसा ही होगा। पश्चिमी यूपी में इतने एनकाउंटर हुए, क्या अपराध कम हुआ? धोखा देने के लिए फर्जी एनकाउंटर किए जा रहे हैं। कमीशनखोरी हो रही है। हर तरफ से उंगली उठ रही। आयोगों की सबसे अधिक नोटिसें इसी सरकार को मिली हैं।

Advertisement
Advertisement
Spread the love