हेलिकॉप्टर घोटाले में भी चौकीदार दागदार निकला-कांग्रेस

हेलिकॉप्टर घोटाले में भी चौकीदार दागदार निकला-कांग्रेस

नई दिल्ली: अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी चॉपर घोटाला में सोनिया गांधी का नाम उछलने से कांग्रेस की बौखलाहट साफ दिखाई दे रही है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि चौकीदार अगस्ता में भी दागदार निकला। मोदी सरकार ने घोटाले वाली ‘अगस्ता कंपनी’ को ब्लैकलिस्ट से बाहर कर उसे हेलिकॉप्टर बनाने का ठेका दिया है और इस तरह से चौकीदार चोर है का पार्ट 2 भी लोगों के सामने आ गया है।

यूपीए सरकार में फरवरी 2010 में अंतराष्ट्रीय टेंडर के बाद 12 वीवीआईपी हेलीकॉप्टर का कॉन्ट्रेक्ट अगस्ता वेस्टलैंड को मिला लेकिन मीडिया रिपोर्ट के बाद सरकार ने जांच शुरू की और 1 जनवरी 2014 को यूपीए सरकार ने कॉन्ट्रेक्ट को रद्द कर दिया था। तब तक 1620 करोड़ का भुगतान हो चुका था और 3 हेलीकॉप्टर आ गए थे। सरकार ने कम्पनी से 2068 करोड़ रुपया वसूल कर तीनों हेलीकॉप्टर भी जब्त कर लिए। यूपीए सरकार ने 1620 करोड़ का भुगतान के बदले 2954 करोड़ रुपया कंपनी से वसूल किया। अगस्ता को सरकार ने ब्लैकलिस्ट कर दिया।

मोदी सरकार आने के बाद 22 अगस्त 2014 में मोदी सरकार ने अगस्ता की ब्लैकलिस्टिंग से हटा दिया, जबकि सीबीआई जांच चल रही है। 3 मार्च 2015 में अगस्ता ने मेक इन इंडिया का हिस्सा बना गया। 8 अक्टूबर 2015 को एफआईपीबी से ई इजाजत दिलवाकर रक्षा हेलीकॉप्टर बनाने की इजाजत दे दी गई। साल 2017 में सरकार ने नौसेना के लिए 100 हेलीकॉप्टर खरीद में हिस्सेदार भी बना लिया। इस तरह राफेल के साथ साथ अगस्ता में भी चौकीदार दागदार निकला। इस तरह चौकीदार चोर है पार्ट 2 लोगों के सामने आया है।

Advertisement

कांग्रेस का मोदी सरकार से 6 सवाल
1. अगस्त को ब्लैक लिस्ट से क्यों हटाया?
2. अगस्ता वेस्टलैंड को मेक ईन इंडिया में शामिल क्यों किया?
3. FIPB से निवेश की इजाजत देकर हेलीकॉप्टर उत्पादन की इजाजत क्यों दी?
4. नौसैनिक हेलीकॉप्टर की निविदा की इजाजत क्यों दी?
5. अन्तराष्ट्रीय अदालत में मुकदमें क्यों हारी? अपील क्यों नहीं किया?
6. क्या मिशेल का इस्तेमाल खुद के घोटाले छुपाने के लिए कर रहे हैं?

कांग्रेस ने कहा की अभी तो मोदी जी बच जाएंगे क्योंकि ईडी उनके हाथ में है लेकिन 2019 में कांग्रेस की सरकार आने पर अगस्ता घोटाले की जांच होगी। कांग्रेस ने कहा कि केन्द्र सरकार गांधी परिवार को फंसाने के लिए एजेंसियों का इस्तेमाल कर रही है।

अगस्ता वेस्टलैंड केस के बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया गया। जहां कोर्ट ने मिशेल की रिमांड सात दिनों तक बढ़ा दी है। ईडी ने सात दिनों की रिमांड खत्म हो जाने पर मिशेल को पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया था। ईडी के वकील ने कोर्ट में बताया कि मिशेल ने पूछताछ में मिसेस गांधी का नाम लिया है। लेकिन मिशेल ने किस संदर्भ में नाम लिया है? इसका पता नहीं चला पाया है।

Advertisement
Advertisement
Spread the love