SP leader and his son shot dead in Sambhal, Uttar Pradesh, accused arrested in 6 hours

UP के संभल में सपा नेता और उसके बेटे की गोली मारकर हत्या, आरोपी 6 घंटे में हुए गिरफ्तार

Advertisement

यह हत्या काण्ड उत्तर पदेश के संभल जिले की है जहाँ समाजवादी पार्टी के नेता छोटे लाल दिवाकर ( chhote Lal Diwakar )और उनका पुत्र सुनील को सड़क विवाद में गोली मारकर हत्या कर दी गयी।  हम आप को बता दे की समाजवादी पार्टी के नेता छोटे लाल दिवाकर और उनका पुत्र सुनील सड़क के काम का निरीक्षण कर गए थे।  इस सड़क के काम को लेकर उनका दोनों आरोपियों से उनका विवाद हो गया।  दोनों आरोपी छोटेलाल को धमकाने के लिए राइफलें लेकर वहां पहुंच गए थे। उनमें से एक व्यक्ति क्षेत्र का दबंग बताया जा रहा है।  उसकी पहचान सतविंदर के रूप में हुई।

ये भी पढ़े :  यूपी राज्य में श्रम कानूनों में संशोधन 2020, करने पड़ेंगे अब पुरे 12 घंटे काम

करीब ढाई मिनट के इस वीडियो में दो शख्स हाथ में राइफल लिए दिखाई पड़ रहे हैं।  वहीं, वीडियो में एक व्यक्ति ‘गोली चला’ कहते हुए सनाई दे रहा है।  वहां, मौजूद कुछ अन्य लोग हथियारबंद दोनों लोगों को समझाने का प्रयास करते हैं। जिसके बाद वे दोनों कुछ दूर वापस जाते हैं और फिर राइफल से निशाना लगाकर पिता-पुत्र पर गोली चला देते हैं।  गोली लगने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

Advertisement

हम आप को बता दे की सपा नेता की पत्नी गांव में प्रधान हैं।  पिता-पुत्र की हत्या करने वाले दोनों आरोपी इस बात से नाराज थे कि मनरेगा के तहत बन रही सड़क उनके खेतों से होकर गुजर रही थी।  इस मामले को लेकर दोनों पक्षों में पहले भी विवाद और कहासुनी हुई थी।

ये भी पढ़े : तेंदुए ने अचानक ट्रक ड्राइवर पर किया हमला, फिर अवारा कुत्तो ने तेंदुए की पूछ पकड़ किया ये काम – वीडियो वायरल

इतना ही नहीं एसपी यमुना प्रसाद ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 3 टीम लगाई थी।  पुलिस ने गोली चलाने वाले दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि इस घटना का एक हैरान कर देने वाला वीडियो भी आया है, जिसमें दो शख्स करीब से पिता-पुत्र को राइफल से गोली मारते हुए दिखाई पड़ रहे हैं।  

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष फिरोज़ खान ने कहा कि छोटे लाल दिवाकर को 2017 के विधानसभा चुनाव में सपा का  उम्मीदवार घोषित किया गया था. हालांकि, यह सीट गठबंधन में सहयोगी दल के खाते में जाने वह चुनाव नहीं लड़ पाए थे. सपा नेता ने दिवाकर की हत्या के लिए इलाके के स्थानीय गुंडों को जिम्मेदार ठहराया है.

Advertisement
Spread the love