Chopda Pujan Date Muhurat and Importance

चोपड़ा पुजान 2020 साल की तारीख, शुभ मुहूर्त का समय और महत्व।

चोपड़ा पूजन व्यापारियों के लिए वित्तीय वर्ष का अंतिम दिन होता है। अगले वित्तीय वर्ष में व्यपार का हिसाब रखने के लिए नई बही खाता किताबे ली जाती है। और उनकी पूजा की जाती है। इसको चोपड़ा पूजन के नाम से जाना जाता है। हिंदू व्यापारियों के लिए यह खास दिन होता है।

चोपड़ा पूजन 14th Nov 2020, Saturday शुभ मुहूर्त लाभ वार वेला 13:30 – 14:51।

Advertisement

दिवाली से जुड़े सभी त्योहारों की लिस्ट, उनकी पूजा विधि और शुभ मुहूर्त।

चोपड़ा पूजन महत्व

इस दिन, व्यवसायी अपनी बही खाता की पूजा करते हैं और नई पुस्तकों में अपने नए व्यपार के लेंन देंन के खाते लिखना शुरू करते हैं। चोपड़ा पूजन न केवल खाता किताबों का बल्कि आध्यात्मिक किताबों का भी किया जाता है।

किसी भी पूजा के लिए चौघड़िया मुहूर्त देखे।

Advertisement

चोपड़ा पूजन के दिन भगवान गणेश और देवी लक्ष्मी की मूर्तियों के सामने बही खाता किताब रख कर, अच्छी व्यापर का आशीर्वाद मांगा जाता है और नए खाते की किताबें और नए व्यापारिक लेन देन लिखे जाते है। राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र राज्यों में दिवाली एक नए व्यापार वर्ष की शुरुआत का प्रतीक है।

चोपड़ा पुजन इस बात का भी प्रतीक होता है कि आने वाला वर्ष फलदायी होगा और दुनिया भर में तरक्की, शांति और खुशी होगी।

Advertisement
Advertisement
Spread the love