janam-kundli

Janam Kundali by Date of Birth in Hindi

Janam Kundli in Hindi by date of birth details. आप अपनी जन्म कुंडलीं ऑनलाइन पा सकते है| Online kudali making and reading jane aap ke janam kundali bhagya me kya chupa hai!

Get Hindi Kundli By Date of Birth and Time

आप अपनी जन्म कुंडली मुफ्त में ऑनलाइन पा सकते है बस आप को अपनी जन्म तिथि, जन्म स्थान और जन्म का समय बताना होगा| अगर जन्म समय नहीं पता है तब भी आप जन्म तिथि और स्थान से भी ये जानकारी प्राप्त कर सके है|

आइये जाने जन्म कुंडली में बारे में:

  • क्या है जन्म कुंडली?
  • जन्म कुंडली का क्या महत्व है?
  • हमारी जन्म कुंडली बनाने के लिए किस जानकारी की आवश्यकता होगी?
  • क्या हम ज्योतिष की मदद से हमारी समस्याओं से समाधान प्राप्त करते हैं?
  • ज्योतिष का क्या उद्देश्य है?
  • जन्म कुंडली का उपयोग|

जन्म कुंडली क्या है?

जन्म कुंडली (Janam Kundli) एक विस्तृत विश्लेषण है जो की एक ज्योतिष विद्वान के द्वारा किसी जातक के जन्म के समय और स्थान के अनुसार, विभिन्न ग्रहों, नक्षत्रों और राशियों आदि की विशेष स्थिति के आधार पर तैयार करता है।

जनम कुंडली की खास बात ये है की इसमें जीवन के अलग अलग पहलू को 12 भावों या घरो में बांटा गया है| जो की इसको पढ़ने और समझने में बहुत ही आसान बनाते है|

जन्म कुंडली का क्या महत्व है?

आज के समय में इंसान महत्वाकांक्षी साथ उसके पास वक़्त की कमी है, ऐसी स्थति में उसके लिये ये जानना बहुत ज़रूरी है की उसका कर्म उसको कहा पंहुचा सकता है कही वो किसी गलत रास्ते पर तो नहीं है, या जो वो कर रहा है उससे उसको कोई दुःख या परेशानी तो नहीं घेरने वाली है, और उससे बच कैसे निकला जा सकता है ऐसी बहुत सी बाते है जिसकी भविष्वाणी जन्म कुंडली से संभव है|

हमारी जन्म कुंडली बनाने के लिए किस जानकारी की आवश्यकता होगी?

जन्म कुंडली बनाने के लिये जातक की जन्म की तिथि, स्थान और समय की जानकारी ज़रूरी है, जन्म समय की सही जानकारी न हो तो जन्म स्थान और तिथि से भी ज्योतिष विद्वान जन्म कुंडली बना सकते है| Janam kundali hindi me aap ke name and date of birth se

क्या हम ज्योतिष की मदद से हमारी समस्याओं से समाधान प्राप्त करते हैं?

जी हां, ज्योतिष समस्याओ का समाधान साथ ही जीवन के उतर चढ़ाव और अच्छे बुरे पलो की भी भविष्वाणी भी करते है| कई बार दुखो का समाधान ग्रहो की स्थति बदले के समय के साथ होता है,

ज्योतिष का क्या उद्देश्य है?

ज्योतिष विद्धवान का मुख्य काम व्यक्ति के कर्मों को मार्गदर्शन करना है। किसी भी व्यक्ति के लिए ज्योतिष विद्या जीवन की समस्याओं का समाधान नहीं है अपितु ज्योतिष विद्या का उद्देश्य व्यक्ति के जीवन को सही दिशा प्रदान करना है।
ज्योतिष के माध्यम से जातक अपने कर्मों की भविष्वाणी जान सकता है जिसके अनुसार फलों की प्राप्ति संभव होती है। Get Free janam kundali analysis

कुंडली घर कुंडली राशि शासित संकेत  कुंडली भविष्यवाणी / जीवन की संभावना
पहला घर मेष व्यक्तित्व, व्यहार, स्वभाव, नई शुरुआत और जीवन के प्रति आपका नजरिया बताता है।
दूसरा घर वृषभ धन दौलत, विरासत, खान पान, रहन-सहन की आदतों के बारे में बताता है।
तीसरा घर मिथुन आप की सोच और दुसरो के प्रति बर्ताव के बारे में बताता है।
चौथा घर कर्क घर परिवार के माहौल, अपने माता-पिता से आप का लगाव, सुख विलासिता जानकारी पा सकते हैं।
पांचवा घर सिंह यह आपकी विचार अभिव्यक्ति को सयमित करता है। शिक्षा, बच्चो और पिछले जन्म के कर्मों को जान सकते हैं।
छठा घर कन्या इसमें पशुओं पक्षियों, ऋण, शत्रु सहित अन्य लोगों के प्रति व्यवहार, सेहत, स्वच्छता, मदद और आपकी सेवा भाव को दर्शाता है।
सातवां घर तुला यह व्यापार सांझेदारी, सौदेबाज़ी, शादी, जीवन साथी को नियंत्रित करता है।
आठवां घर वृश्चिक यह मौत और पुनर्जन्म से संबंधित है।
नौवां घर धनु आपके विकास और आपके भाग्य भाग्यशाली होने को बताता है।
दसवां घर मकर आपके बढ़ो का प्रतिनिधित्व, बचपन एवं पेशे पर प्रभाव डालता है।
ग्यारवां घर कुंभ आप की पति, साथी, पत्नी, दोस्त या व्यवसायी भूमिकाओं बताता है जो आप अपने पूरे जीवनकाल में करते हैं
बारहवां घर मीन कोर्ट कचरी, जेलों, अस्पतालों से संबंधित मामले, नुकसान, दूर की यात्रा को बताता है

जन्म कुंडली का उपयोग

  • जन्म कुंडली से जीवन की भविष्यवाणी कर सकते हैं।
  • जन्म कुंडली के आप को आप के उत्तम कैरियर चुनने में मदद करती है जो आप को अपार सफलता दे सकती है|
  • कुंडली से आप व्यक्ति विशेष के व्यक्तित्व, कैरियर, जीवन के विभिन्न पहलुओं के बारे में जानकारी ले सकते है।
  • कुंडली आप को अपने भाग्यशाली रत्न, रंग और संख्या जानने में मदद कर सकती हैं।
  • जन्म कुंडली से मिली भविष्वाणी से आप समस्याओं को कम करने में और उपाय करने में सक्षम हो सकते हैं।
  • कुंडली जीवन उतर चढ़ाव और अच्छे बुरे वक़्त की सम्भावना व्यक्त की जा सकती है।
  • जन्म कुंडली से आप अपनी अच्छाईयो और बुराइयो को भी जान सकते हैं।
    कुंडली आपको भविष्य में दुर्घटनाओं से अवगत कराती है।
Spread the love