जीने की राह Jeene Ki Rah

जीने की राह ( Jeene Ki Rah book free download)

जीने की राह एक पुस्तक है जिसको जगत गुरु तत्वदर्शी संत रामपाल जी महाराज ( Rampal Ji Maharaj ) ने लिखी है।  इसके पढ़ने तथा अमल करने से लोक तथा परलोक दोनों में सुखी रहोगे। पापों से बचोगे, घर की कलह समाप्त हो जाएगी। बहू-बेटे अपने माता-पिता की विशेष सेवा किया करेंगे। घर में परमात्मा का निवास होगा। भूत-प्रेत, पित्तर-भैरव-बेताल जैसी आत्माऐं उस परिवार के आसपास नहीं आएंगी। देवता उस भक्त परिवार की सुरक्षा करते हैं। अकाल मृत्यु उस भक्त की नहीं होगी जो इस पुस्तक को पढ़कर दीक्षा लेकर मर्यादा में रहकर साधना करेगा। जीने की राह पुस्तक घर-घर में रखने योग्य है।

ये भी पढ़े : संत रामपाल जी महाराज का जीवन परिचय

इतना ही नहीं पुस्तक जीने की राह को पढ़ने से उजड़े परिवार बस जाऐंगे। जिस परिवार में यह पुस्तक रहेगी, इसको पढ़ेंगे। जिस कारण से नशा अपने आप छूट जाएगा क्योंकि इसमें ऐसे प्रमाण हैं जो आत्मा को छू जाते हैं। शराब, तम्बाकू तथा अन्य नशे के प्रति ऐसी घृणा हो जाएगी कि इनका नाम लेने से रूह काँप जाया करेगी। पूरा परिवार सुख का जीवन जीएगा। जीवन का सफर आसानी से तय होगा क्योंकि जीवन का मार्ग साफ हो जाता है।

Advertisement

ये भी पढ़े : Jeene Ki Raah Ke 125 Sootra Written By – Pt. Vijay Shankar Mehta

Download PDF of book Jeene Ki Rah in various languages

Sant rampal ji maharaj ki aarti mp3 download

Download  Nitniyam / नित्य नियम  mp3 

download Sandhya Aarti / संध्या आरती mp3

Download Ramaini / असुर निकंदन रमैणी mp3

 

Advertisement
Spread the love