सपा मुख्यालय पर पूर्व रक्षामंत्री मुलायम सिंह यादव और जनेश्वर मिश्र पार्क स्थित प्रदेश के सबसे बड़े राष्ट्रध्वज अखिलेश यादव ने ध्वजारोहण किया

सपा मुख्यालय पर पूर्व रक्षामंत्री मुलायम सिंह यादव और जनेश्वर मिश्र पार्क स्थित प्रदेश के सबसे बड़े राष्ट्रध्वज का अखिलेश यादव ने ध्वजारोहण किया

समाजवादी पार्टी की ओर से आज 70वां गणतंत्र दिवस समारोहपूर्वक समाजवादी पार्टी मुख्यालय, तथा जनेश्वर मिश्र पार्क, गोमतीनगर, लखनऊ में मनाया गया। पूर्व रक्षामंत्री मुलायम सिंह यादव ने पार्टी मुख्यालय में ध्वजारोहण किया। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जनेश्वर मिश्र पार्क स्थित प्रदेश के सबसे बड़े राष्ट्रध्वज को सलामी दी। ढोल नगाड़े और गीत संगीत के साथ देशभक्ति के नारों से वातावरण बराबर गूंजता रहा।

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस अवसर पर कहा कि आज उन क्रांतिकारियों को याद करने का दिन है जिनके बलिदान से हमें आजादी मिली। देश को आज के ही दिन डाॅ0 भीमराव अम्बेडकर ने देश का संविधान दिया था। हमारे समाज की खूबसूरती है कि हम सब विभिन्न धर्म, बोली और जातियों के लोग मिलजुलकर रहते आए हैं। इस परम्परा को बनाए रखना है ताकि देश मजबूत रहे। उन्होंने कहा आज हमें संकल्प लेना है कि देश खुशहाल हो, किसी गरीब, किसान का हक न छीना जाए।

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा राज में संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। देश की 60 प्रतिशत सम्पत्ति 9 परिवारों में कैद होकर रह गई है। सामाजिक-आर्थिक विषमताओं में वृद्धि हुई है। पांच वर्ष में 50 हजार किसान आत्महत्या कर चुके है। न उनकी कर्जमाफी हुई, नही उनकी आय दुगनी हुई है। नौजवानों को रोजगार नहीं मिला। जीएसटी ने व्यापार चैपट कर दिया है।

इतना ही नहीं अखिलेश यादव ने कहा कि किसी को सम्मान मिले, समाजवादी कभी इस पर उंगली नहीं उठाते हैं। भाजपा ने यशभारती सम्मान पर सवाल उठाए। अब उन्हें कैसा लग रहा होगा जब उनके दिए सम्मान पर लोग प्रश्नचिह्न लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा से जनता नाराज है। वह चाहती है कि देष को नया प्रधानमंत्री मिले। जनता वोट से इनका एनकाउण्टर करेगी।

Spread the love