Dahi Handi Govinda Aala Re Janmashtami

Dahi Handi Govinda Aala Re Janmashtami

दही हांडी गोविंदा आला रे

दही हांडी की प्रतियोगिता। जन्माष्टमी की सबसे लोकप्रिय परम्परा मे से एक दही हांड़ी फोडऩे का रिवाज हैं।इस परम्परा को बडे़ उत्साह के साथ मनाया जाता हैं।खासतौर पर यह परम्परा भारत मे गुजरात और महाराष्ट्र मे देखी जाती हैं।

Shri Kirhsna Janmashtami -कृष्ण जन्माष्टमी अवसर पर दही हांडी श्री कृष्णा भगवान की मटकी फोड़ लीला से जुड़ा है। दही हांड़ी के इस उत्सव में लोग मानव पिरामिड बनाकर टंगी मटकी तक पहुंचते है और फोड़ते है। जन्माष्टमी जो भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव का प्रतीक है। अपने बाल्यावस्ता में भगवान कृष्णा अपने सखाओ के साथ गोपियों की मटकी फोड़ते थे जिसके फलस्वरूप उनको मैया यसोदा से डांट भी पड़ती थी।

श्री कृष्णा जन्मष्टमी के अगले दिन दही हांडी मनाई जाती है औरजिसे गोकुलअष्टमी के नाम सेभी जाना जाता है। इस वर्ष यह १२ अगस्त को मनाया जाएगा क्योंकि 11अगस्त को जन्मष्टमी पड़ रहा है।

Advertisement

Dahi handi  2020 mumbai

दही हांडी गोविंदा आला रे – मुंबई में दही हांडी उत्सव पूरी दुनिया में मशहूर है। यह पर मटकी फोड़ने के लिये लोग अपनी अपनी टोली ले के आते है ऊचाई पर लटकी दही हांड़ी को फोड़ने के लिये मानव पिरामिड बनाते है। जिसमे टोलिया कई बार असफल भी होती है लेकिन जो टोली फिर सूझ बुझ और हौसले के साथ मानव पिरामिड बनती है। वो निचित ही दही हांड़ी को फोड़ती है। टोलियो की गोविंदा आला रे के नाम से भी जानते है। मुंबई की दही हांड़ी को फोड़ने वाले को इनाम भी मिलता है। महाराष्ट्र मुंबई में दही हांडी उत्सव को गोपालकला के नाम से भी जाना जाता है। महाराष्ट्र के साथ साथ यह उत्सव उत्तरप्रदेश, गुजरात, और गोवा में लोकप्रिय है।

जानिए मथुरा मे कैसे मनाई जाती हैं कृष्ण जन्माष्टमी

Dahi Handi Images – दही हांडी

Advertisement

 

Govinda dahi handi songs download

Govinda Aala re Song

Advertisement

 

Advertisement
Spread the love