अखिलेश यादव ने आजमगढ़ से चुनाव लड़ने का दिया संकेत, कहा समाजवादियों का दूसरा घर आजमगढ़ ही है

अखिलेश यादव ने आजमगढ़ से चुनाव लड़ने का दिया संकेत, कहा समाजवादियों का दूसरा घर आजमगढ़ ही है

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रविवार को यहां दावा किया कि भाजपा पूरे देश मे महज 74 सीटों पर सिमट जाएगी। उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन को सबसे बेहतर बताया। इतना ही नहीं मायावती को प्रधानमंत्री बनाने के सवाल का जबाब देते हुए उन्होंने कहा कि उन्होंने तय कर रखा है कि क्या करना है।

हम आप को बता दे की पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव लखनऊ में एक टीवी चैनल के कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे थे और उन्होंने आजमगढ़ से चुनाव लड़ने का संकेत भी दिया। उन्होंने कहा कि आजमगढ़ की जनता कहेगी तो वह वहां से लड़ेंगे। अखिलेश ने कहा, “प्रदेश की जनता चाहती है कि वर्तमान सरकार यहां से जाएय देश का प्रधानमंत्री नया बने और उत्तर प्रदेश से बने यह सबसे अच्छा होगा।”

ये भी पढ़े : नही रहे गोवा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर पर्रिकर, केंद्र सरकार ने 18 मार्च को घोषित किया राष्ट्रीय शोक

Advertisement

इतना ही नहीं उन्होंने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा, “हमारा तो एक-दो दलों का गठबंधन है। भाजपा बताए कि देशभर में उनका कितनी पार्टियों के साथ गठबंधन है। अगर हमारा महामिलावट का गठबंधन है तो उनका कौन-सा है? इसके लिए डिक्शनरी देखनी पड़ेगी?

उन्होंने कहा कि भाजपा सत्ता पाने के लिए हर झूठ बोलने के लिए तैयार है। लेकिन इस बार वह पूरे देश में 74 सीटों पर सिमट जाएगी। पूर्व सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव द्वारा नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री की शुभकामना पर अखिलेश ने कहा, “संसद में नेता जी ने जो कहा वह शिष्टाचार के लिए था। फ्लोर ऑफ द हाउस पर ऐसी बातें होती हैं। इतना ही नहीं अखिलेश ने कहा, प्रियंका के आने से भाजपा का सूपड़ा साफ हो जाएगा। उनका आना अच्छी बात है। दो सीटों के साथ कांग्रेस हमारे साथ है। साइकिल पर कई लोग बैठ सकते हैं. यह हमारी साइकिल है।

ये भी पढ़े : यूपी में बीजेपी नहीं रोक पा रही अपने सांसदों को, बीजेपी छोड़ सपा में शामिल हुए प्रयागराज के ये सांसद

Advertisement
Advertisement
Spread the love